कृषि प्रौद्योगिकी, किस्‍मों के सुधार और उपयोगकर्ताओं के लिए अचछी रोपण सामग्री उपलब्‍ध करवा कर चाय, उच्‍च गुणवता युक्‍त पुष्‍प, सगंध और अन्‍य महत्‍वपूर्ण फसलों की सतत उत्‍पादकता और गुणवता सुधार

लक्ष्‍य

उच्‍च मूल्‍यवान व्‍यावसायिक और औद्योगिक फसलों कृषि प्रौद्योगिकी और रोपण सामग्री को विकसित करना

गतिविधियां

  • उन्‍नत किस्‍मों और कृषि प्रौद्योगिकी को विकसित करना (समर्थ भारत)
  • पुष्‍पोत्‍पादन (जरबेरा, कैला लिलि, गेंदा, लिलियम, गुलदाउदी, गुलाब, बर्ड आफ पेराडाइज, एलस्‍ट्रोमेरिया, ग्‍लेडियोलस, हाइड्रेंजिया, ऑर्किड )
  • औषधीय एवं सगंध पौधे( स्‍टीविया, दसस्‍क गुलाब, एकोरस, टेजेटिस, पिक्रोराइजा, सालविया आदि)
  • चाय और उच्‍च मूल्‍यवान फसलें ( बड़ी इलाइची, केसर)
  • जंगली आभूषक एवं नई फसलेंफसलें(प्राकृतिक मीठाकारक/ जैवइंधन, इन्‍कारवेलिया)
  • चिन्हित लुप्‍तप्राय /संकटापन्‍न पादप प्रजातियों का भविष्‍य के लिए उपयोग हेतु संरक्षण और रखरखाव(सामरिक क्षेत्र के लिए सहायता)
  • चाय बागानों का मशीनीकरण(समर्थ भारत)
  • श्रमिकों की कमी को दूर करना
  • लाभ को बढ़ाना
  • गुणवतायुक्‍त रोपण सामग्री तैयार करना, मानव संसाधन कवकास और कृषि प्रौद्योगिकी हस्‍तांतरण( सुन्‍दर गांव)
  • आधुनिक कृषि के क्षेत्र में कौशल विकास (स्किल डेवलपमेंट कुशल विकास)
  • विशिष्ट प्रयोजन के लिए पौधों को विकसित करना /लगाना (स्वच्छ भारत)
  • स्वच्छ वातावरण और आंतरिक कीट नियंत्रण के लिए आंतरिक( इनडोर) पौधे
  • सूक्ष्‍म पौधे

प्रभागाध्यक्ष

डॉ. सनत सुजात सिंह

प्रधान वैज्ञानिक

ईमेल :-  

फोन :- +91-1894-233339 Ext 373